मेडिकल बिल के विरोध में हड़ताल, प्रदेश के अस्पतालों में OPD बंद

By Jagatvisio :02-01-2018 08:47


बिलासपुर। नेशनल मेडिकल काउंसिल बिल के विरोध में प्रदेश की आईएमए इकाई मंगलवार को काला दिवस मनाएगी। इसके तहत जिले के निजी अस्पताल में ओपीडी का संचालन सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक नहीं होगा। उपचार प्रभावित होने से लोगों को दिक्कत हो सकती है। हालांकि इसके तहत आपातकालीन सेवा जारी रहेगी।

आईएमए के आव्हान पर बिलासपुर आईएमए परिवार भी पूरा समर्थन दे रहा है। इसी को देखते हुए मंगलवार को निजी अस्पतालों में ओपीडी का काम शाम 6 बजे तक बंद रहेगा। आईएमए ने बिल लागू होने से पड़ने वाले प्रभाव की जानकारी दी है। इसके मुताबिक इस एक्ट से क्वेकुरी (मिथ्या चिकित्सा), ब्रिज पाठ्यक्रम को बढ़ावा मिलेगा। इससे देश की स्वास्थ्य सेवाओं पर दुष्प्रभाव पड़ेगा।

इस संबंध में आईएमए के प्रदेश अध्यक्ष डॉ.अशोक त्रिपाठी ने बताया कि इस एक्ट से अनुचित व भ्रष्ट चिकित्सा शिक्षा प्रणाली को बढ़ावा मिलेगा। नेशनल एग्जिट परीक्षा को लेकर छात्रों में तनाव व दबाव बढ़ेगा। इससे चिकित्सा शिक्षा में भ्रष्टाचार बढ़ेगा।

उन्होंने कहा कि किसी भी आयुष, होम्योपैथी और यूनानी डॉक्टर को ब्रिज पाठ्यक्रम कराना और उसे एलोपैथी की प्रैक्टिस की अनुमति देना एक तरह से देश की जनता के स्वास्थ्य से खिलवाड़ करना होगा। इसके अलावा अन्य समस्या आएगी।

Source:Agency