लालू की नई टीम में राबड़ी का बढ़ा कद, शहाबुद्दीन आउट, हिना को मिली जगह

By Jagatvisio :08-02-2018 08:23


पटना । चुनावी मोड में दिख रहे राजद ने बुधवार को अपनी नई राष्ट्रीय टीम का एलान कर दिया है, जिसमें राबड़ी देवी का कद पहले से काफी बढ़ गया है। पिछली कमेटी में राबड़ी कार्यकारिणी सदस्य भर थीं और अब उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया गया है। लालू की इस नई टीम की सबसे बड़ी बात यह है कि इस  83 सदस्यीय टीम में बाहुबली पूर्व सांसद शहाबुद्दीन को आउट करके उनकी पत्नी को हिना शहाब को कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया है तो वहीं टीम में रघुवंश प्रसाद सिंह समेत पांच उपाध्यक्ष एवं आठ महासचिव शामिल किए गए हैं। कोषाध्यक्ष एवं प्रवक्ताओं के पदों को अभी खाली रखा गया है।

चारा घोटाले में रांची जेल में बंद लालू प्रसाद की अनुपस्थिति में पार्टी के प्रधान महासचिव कमर आलम ने नई टीम का एलान किया। टीम के गठन में वफादारी को प्राथमिकता दी गई है। कमर आलम को प्रधान महासचिव बनाए रखा गया है। लालू के करीबी विधायक भोला यादव, आलोक मेहता, कुमार सर्वजीत एवं विधान पार्षद रणविजय सिंह को पहली बार राष्ट्रीय महासचिव बनाया है। संगठन में किसी भी पद पर रणविजय की पहली इंट्री है, जबकि भोला, सर्वजीत एवं आलोक की प्रोन्नति हुई है। भोला पहले प्रदेश में महासचिव थे और आलोक कार्यकारिणी सदस्य थे।

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह एवं शिवानंद तिवारी को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद पर पूर्ववत बनाए रखा गया है। पूर्व प्रवक्ता इलियास हुसैन को भी महासचिव की जिम्मेवारी दी गई है। पिछली कमेटी में कोषाध्यक्ष के रूप में शामिल राज्यसभा सांसद प्रेमचंद गुप्ता को इस बार कार्यकारिणी में जगह मिली है।

परिवार को भी प्राथमिकता

राष्ट्रीय कार्यकारिणी में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव तथा मीसा भारती को शामिल किया गया है। राबड़ी देवी को उपाध्यक्ष बनाए जाने के पीछे माना जा रहा है कि पार्टी ने लालू प्रसाद की गैरमौजूदगी में आपात स्थिति से निपटने की पूरी तैयारी कर रखी है। पार्टी संविधान के मुताबिक खास परिस्थिति में राष्ट्रीय अध्यक्ष के पास किसी को कार्यकारी व्यवस्था के लिए नामित करने का अधिकार है। उपाध्यक्ष रहने के नाते राबड़ी को बड़ी जिम्मेवारी सौंपना ज्यादा तर्कसंगत होगा। इसी धारणा के तहत भोला यादव को भी प्रदेश से निकालकर राष्ट्रीय महासचिव बनाया गया है। कार्यकारिणी में प्रेमचंद गुप्ता, बुलो मंडल, राम जेठमलानी, अब्दुल बारी सिद्दीकी, हिना शहाब, एमएए फातिमी, पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम, गौतम सागर राणा और अब्दुल गफूर भी सदस्य हैं।

Source:Agency