निवेश में झारखंड से भी पिछड़ा रहा है छत्तीसगढ़

By Jagatvisio :12-02-2018 06:20


रायपुर । निवेशकों को रिझाने के मामले में छत्तीसगढ़ की स्थिति झारखंड से भी बदतर है, जबकि दोनों राज्य लगभग एक साथ ही अस्तित्व में आए थे। वहीं दक्षिण-पश्चिम के धनाढ्य राज्यों की बादशाहत बरकरार है।

वर्ष 2017 में कर्नाटक सर्वाधिक निवेश राशि के प्रस्ताव आकर्षित कर देश में शीर्ष पर उभरा है। उसने इस मामले में महाराष्ट्र और गुजरात को भी पछाड़ दिया है। हालांकि आबादी के लिहाज से सबसे बड़ा राज्य उत्तरप्रदेश और पड़ोसी राज्य बिहार का प्रदर्शन निवेश आकर्षित करने के मामले में फीका रहा है।

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के औद्योगिक नीति एवं संवर्धन विभाग (डीआइपीपी) के ताजा आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2017 में जनवरी से दिसंबर के दौरान देश में 3.95 लाख करोड़ रुपए के निवेश के प्रस्ताव आए। इनमें छत्तीसगढ़ में महज एक फीसद का निवेश भी नहीं हुआ जबकि झारखंड ने अपेक्षाकृत जबरदस्त उपस्थिति दर्ज करते हुए झारखंड 3.29 फीसद निवेश कराया।

1.52 लाख करोड़ रुपए के प्रस्ताव अकेले कर्नाटक में आए। कुल प्रस्तावों में से 38 फीसद निवेश राशि के प्रस्ताव प्राप्त कर कर्नाटक इस मामले में पहले नंबर पर है। राज्य ने इस मामले में परंपरागत तौर पर निवेशकों की पसंद रहे गुजरात और महाराष्ट्र को भी पीछे छोड़ दिया है।

निवेश आकर्षित करने वाले राज्य

राज्य कुल निवेश में हिस्सेदारी (फीसद में) 

कर्नाटक 38.48 

गुजरात 20.00 

महाराष्ट्र 12.29 

आंध्र 7.47 

तेलंगाना 4.14 

झारखंड 3.29 

उत्तरप्रदेश 3.09 

मप्र 1.81 

छत्तीसगढ़ 0.63

Source:Agency