छत्तीसगढ़ में पैर पसार रहा फ्लोरोसिस, 1148 कस्बे प्रभावित

By Jagatvisio :14-02-2018 08:11


रायपुर। आर्सेनिक और फ्लोराइड की अधिकता वाला पानी पीने से प्रदेश में फ्लोरोसिस और किडनी के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। चिंता का विषय यह है कि केंद्र और राज्य सरकार के साझा प्रयास के बावजूद प्रभावित कस्बों की संख्या बढ़ी है।

अगस्त 2016 तक प्रदेश के 1148 कस्बों का पानी आर्सेनिक व फ्लोराइड से प्रभावित था, आज प्रभावित कस्बों की संख्या 1170 पहुंच गई है। इसका मतलब डेढ़ साल में 22 और कस्बों के पानी में फ्लोराइड और आर्सेनिक की मात्रा बढ़ी है।

पानी के नमूनों की जांच से पता चला है कि आर्सेनिक और फ्लोराइड की अधिकता वाला पानी औद्योगिक क्षेत्रों से लगे इलाकों में ज्यादा है। गरियाबंद में 2007 से लोग किडनी की बीमारी के शिकार हो रहे हैं। कोरबा जिले के तीन विकासखंडों में भी आठ-दस साल से ग्रामीण फ्लोरोसिस के कारण विकलांगता के शिकार हो रहे हैं।

Source:Agency