इन दस म्यूचुअल फंड में है बड़ा मुनाफा पाने का मौका

By Jagatvisio :07-05-2018 05:42


म्यूचुअल फंड्स में अब लोग तेजी से पैसा लगा रहे हैं, लेकिन सबसे बड़ा सवाल है कि कौन से फंड में निवेश करना फायदेमंद है. एक्सपर्ट्स बताते हैं कि म्यूचुअल फंड में निवेश करने के दो तरीके हैं - SIP और एकमुश्त निवेश. SIP के लिए आपको बाजार में समय देने की जरूरत नहीं पड़ती है और वे बीते समय की एक अवधि के दौरान शेयर बाजार की अस्थिरता के कारण जोखिम का औसत निकालते हैं. लेकिन, एकमुश्त निवेश अर्थात म्यूचुअल फंड में एक बार में एक बड़ी रकम निवेश करते समय आपको कई बातों का ध्यान रखना पड़ता है. अगली स्लाइड में जानिए कौन से फंड्स में बनेगा पैसा...

सबसे पहले म्यूचुअल फंड को समझने की जरूरत है. एक्सपर्ट्स बताते हैं कि बड़ी तादाद में निवेशकों की जमा राशि म्यूचुअल फंड कहलाता है. इस पैसों को मैनेज करने के लिए फंड मैनेजर होता है. वह निवेशकों के पैसे कई जगहों पर निवेश करता है, जो रिटर्न और जोखिम के आधार पर तय होते हैं. म्यूचुअल फंड हाउस इक्विटी, बॉन्ड, मुद्रा बाजार के साधनों या अन्य सिक्यॉरिटीज में निवेश करते हैं, ताकि निवेशकों को कम-से-कम जोखिम में ज्यादा-से-ज्यादा रिटर्न हासिल हो सके. अगली स्लाइड में जानिए दस सबसे अच्‍छे फंड़स के बारे में...


आनंद राठी प्राइवेट वेल्थ के डिप्टी सीईओ फिरोज अजीज कहते हैं कि एचडीएफसी इक्विटी ग्रोथ, एबीएसएल फ्रंटलाइन इक्विटी, कोटक सिलेक्ट फोकस फंड, एसबीआई ब्लूचिप रेगुलर ग्रोथ, आईसीआईसीआई प्रु.फोकस्ड ब्लूचिप इक्विटी, आईसीआईसीआई प्रु. वैल्यू डिस्कवरी, एचडीएफसी टॉप 200, मोतीलाल ओसवाल मल्टीकैप 35, फ्रैंकलिन इंडिया प्राइमा प्लस, आईसीआईसीआई प्रु. डायनैमिक प्लान इन फंड्स ने अन्य फंड्स की तुलना में बेहतर परफॉर्मेंस किया है.

फिरोज अजीज का कहना है कि इन 10 शेयरों की निफ्टी (एनएसई का बेंचमार्क इंडेक्स) में हिस्सेदारी 54 फीसदी है. टॉप 10 लार्जकैप म्यूचुअल फंड की इन शेयरों में 33 फीसदी होल्डिंग है. बाकी निवेशक दूसरे शेयरों में पैसे लगाते हैं. उतार-चढ़ाव का असर कम करने के लिए निवेश डायवर्सिफाई करना होता है.
 

Source:Agency