सचिन ने बेटे अर्जुन के अंडर 19 टीम में चुने जाने पर दिया बड़ा बयान

By Jagatvisio :08-06-2018 08:12


नई दिल्ली : भारत के मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर को श्रीलंका में अगले महीने होने वाले दो चार दिवसीय मैचों के लिए भारत की अंडर-19 टीम में शामिल किया गया है. 18 साल के बांए हाथ के तेज गेंदबाज अर्जुन पिछले साल कूच बिहार ट्राफी में मुंबई अंडर-19 टीम का हिस्सा रहे थे जहां उन्होंने 18 विकेट हासिल किए थे. 

जूनियर चयन समिति ने यहां हुई बैठक में श्रीलंका के खिलाफ खेले जाने वाले चार दिवसीय दो मैचों के लिए अर्जुन को टीम में जगह दी. वह हालांकि पांच वनडे मैचों की सीरीज के लिए टीम में जगह नहीं बना पाए हैं. भारत को श्रीलंका में 11 जुलाई से 11 अगस्त के बीच यह दोनों सीरीज खेलनी है. 

अर्जुन के चयन पर सचिन का कहना है कि अर्जुन का चयन उसके करियर में खास मील का पत्थर साबित होगा. सचिन ने कहा, “अंजलि और मैं हमेशा ही अर्जुन के चुनाव (पसंद) को सपोर्ट करेंगे और उसकी सफलता की प्रार्थना करेंगे.”

कई दिग्गज देख चुके हैं उन्हें नेट पर गेंदबाजी करते हुए
अर्जुन को कई बार टीम इंडिया और दूसरी टीमों के साथ नेट प्रैक्टिस करते देखा गया है. उन्हें टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री और गेंदबाजी कोच भरत अरुण गेंदबाजी करते देख चुके हैं. पिछले साल अर्जुन ने भारत और न्यूजीलैंड के बीच हुई तीन एक दिवसीय मैचों की सीरीज के पहले वानखेड़ स्टेडियम में टीम इंडिया के साथ नेट पर देखा गया था. अर्जुन तब भी खबरों में आए थे जब वे लॉर्ड्स में इंग्लैंड की टीम को नेट प्रैक्टिस करा रहे थे उस समय इंग्लैंड क्रिकेट टीम को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलना था. उस दौरान अर्जुन की गेंद पर जॉनी बेयरस्टॉ चोटिल हो गए थे. अर्जुन ने तब भी सुर्खियां बटोरी थी, जब वह इंग्लैंड के खिलाफ विश्व कप फाइनल से पहले भारतीय महिला क्रिकेट टीम के नेट गेंदबाज बने थे.

 गेंदबाजी कोच ने भी की तारीफ अर्जुन की
सचिन के बयान के अलावा अर्जुन के मुंबई के अंडर 19 गेंदबाजी कोच सतीश सामंत ने अर्जुन की तारीफ की है. एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सामंत का मानना है कि अर्जुन ने इस सीजन में शानदार गेंदबाजी कर अपने लिए नई लेकिन बढ़िया शुरुआत की है.  उनके मुताबिक युवा अर्जुन ने अपनी गेंदबाजी में नई क्षमताओं का इजाफा किया है. दाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए अंदर आती गेंद उसका सबसे खतरनाक हथियार है.
 
सामंत ने कहा, “पिछले पांच छह महीने में अर्जुन के पेस में बेहतरीन सुधार हुआ है. उसकी स्विंग खासतौर पर दाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए अंदर आती गेंद में ज्यादा सटीकता आई है. वह ज्यादा सटीक हुआ है और गेंद को सही जगह पर डालता है. उसके पास डिसेप्टिव बाउंसर भी है. कुल मिला कर उसका कौशल शानदार है. उसके पास अच्छी यार्कर गेंद और हाथ के पीछे से धीमी गेंद फेंकने की भी महारत है. अब बात केवल निरंतरता की जो कि प्रैक्टिस से आएगी. उसकी गति औरों के मुकाबले ज्यादा है.”

Source:Agency