RBI ने सस्ते घरों के लिए लोन की सीमा बढ़ाई

By Jagatvisio :08-06-2018 08:26


रिजर्व बैंक ने बुधवार को रीपो रेट और रीवर्स रीपो रेट में 0.25 फीसदी की बढ़ोतरी करने की घोषणा की, इससे लोन की ईएमआई बढ़ जाएगी। हालांकि इसके साथ ही RBI ने प्रायॉरिटी सेक्टर लेंडिंग (PSL) के तहत लोन की सीमा बढ़ा दी है जिससे अफॉर्डेबल हाउजिंग सेगमेंट को बढ़ावा मिलेगा। सरकार ऐसे आवासीय भवनों के निर्माण के लिए खस्ताहाल चल रहे PSUs के पास अतिरिक्त पड़ी जमीन का इस्तेमाल कर सकती है। 
एक अन्य घटनाक्रम के तहत राष्ट्रपति ने घर खरीदारों को फाइनैंशल क्रेडिटर्स के तौर पर मान्यता देने से संबंधित अध्यादेश पर भी मुहर लगा दी। इसके तहत अगर कोई रियल एस्टेट कंपनी दिवालिया होती है और उसकी संपत्ति नीलाम की जाती है तो नीलामी से मिलने वाली धनराशि का एक हिस्सा उन लोगों को भी मिलेगा जिन्होंने घर खरीदने के लिए कंपनी को बड़ी रकम दी थी। 

रिजर्व बैंक ने एक बयान में कहा कि उसने PSL योग्यता वालों के लिए हाउजिंग लोन की सीमा 28 लाख से बढ़ाकर 35 लाख मेट्रो शहरों में और दूसरे शहरों में 20 लाख से बढ़ाकर 25 लाख रुपये करने का फैसला किया है। ऐसे में मेट्रोपॉलिटन सेंटर (10 लाख और उससे अधिक की आबादी के साथ) में आवासीय यूनिट की कुल लागत 45 लाख और दूसरे सेंटर्स पर 30 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए। 
वित्तीय मामलों के सचिव राजीव कुमार ने आरबीआई के इस बयान के बाद ट्वीट कर कहा, 'सभी के लिए घर की दिशा में बड़ा कदम। PSL के तहत होम लोन की सीमा 35 लाख और दूसरे शहरों में 25 लाख बढ़ाने से ऐसे बैंक लोन सस्ते हो जाएंगे।' 

Source:Agency