दाती महाराज चरणसेवा के नाम पर नोचते,कहते थे तुम्हें मोक्ष प्राप्त होगा

By Jagatvisio :13-06-2018 07:36


शनि देव की कृपा पाने का उपाय बताने वाले दाती मदन महाराज राजस्थानी पर शनि की साढ़ेसाती शुरू हो चुकी है। उन्हें इससे निकलने का रास्ता शायद ही मिले क्योंकि उन पर एक महिला ने यौन शोषण का आरोप लगाया है। कथित पीड़िता अपने परिवार के साथ इंसाफ के लिए बीते एक हफ्ते से संघर्ष कर रही है। अब उसने अपने प्राणों का भय सता रहा है। पीड़िता ने पुलिस सुरक्षा की भी मांग की है। पीड़िता का परिवार लगातार जान बचाकर भागता फिर रहा है। उनका आरोप है कि उन्हें दाती महाराज की तरफ से लगातार धमकियां दी जा रही हैं।

पीड़िता को टरकाती रही पुलिस: पीड़िता को शिकायत दर्ज करवाने में भी भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। पीड़िता का आरोप है कि पुलिस लगातार एक थाने से दूसरे थाने तक उन्हें टरकाती रही। पीड़िता रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए सबसे पहले कालका जी थाने गई थी। पीड़िता के मुताबिक पुलिस ने उन्हें सुबह 11 बजे से लेकर देर शाम तक इंतजार करवाया। शाम 4.30 बजे के बाद थाने में कई पुलिसकर्मियों ने शिकायत तो पढ़ी लेकिन रिपोर्ट दर्ज करने से कतराते रहे। अंत में उन्हें कह दिया गया कि मामला थाना फतेहपुर बेरी का है, आप वहीं जाएं।

भगवान बन गया हैवान: करीब 15 सालों तक दाती मदन महाराज का अनुयायी रहा परिवार अब उनके नाम से खौफ खाता है। अपनी आपबीती बताते हुए पीड़िता आज भी थरथरा उठती है। उसने बताया कि बाबा के गुर्गों ने उस रात उसे सफेद कपड़े पहनाए थे। बाबा अंधेरी गुफा जैसे कमरे में था। कमरे में इतना अंधेरा था कि एसी की एलईडी लाइट पर भी टेप लगा था। दाती महाराज ने पीड़िता को अंधेरे में दबोच लिया। उसने कहा,”मैं तुम्हारा प्रभु हूं। क्यों इधर-उधर भटकना। मैं तुम्हारी हर वासना खत्म कर दूंगा।” पीड़िता का आरोप है कि बाबा के अलावा उसके गुर्गों ने भी रेप किया है।
पीड़िता का आरोप है…: पीड़िता ने आरोप लगाया है कि दाती मदनलाल राजस्थानी ने अपने सहयोगी श्रद्धा उर्फ नीतू, अशोक, अर्जुन, नीमा जोशी के साथ मिलकर 9 जनवरी 2016 को दिल्ली स्थित आश्रम श्री शनि तीर्थ, असोला फतेहपुर बेरी में रेप के बाद कुकर्म भी किया है। ये सारा वाकया तब हुआ जब उसे ‘चरण सेवा’ के लिए श्रद्धा उर्फ नीतू दाती महाराज के पास ले गई थी। पीड़िता के मुताबिक वह चीखती-चिल्लाती, दर्द से कराहती रही लेकिन दाती महाराज रेप करते रहे।

Source:Agency