रायपुर : ये है इंट्रीग्रेटेड कंट्रोल सेंटर की खासियत

By Jagatvisio :14-06-2018 08:46


रायपुर । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को छत्तीसगढ़ के नया रायपुर में जिस इंट्रीग्रेटेड कंट्रोल सेंटर का उद्घाटन किया है, वह अपने आप में लाजवाब है। यह देश के आधुनिक शहरों के लिए मिसाल बनकर सामने आया है। अब देश के कई मुख्यमंत्री और नेता इस सेंटर और नया रायपुर को देखने आ चुके हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने जिस इंट्रीग्रेटेड कंट्रोल सेंटर का उद्घाटन किया है, उसे नया रायपुर के सेक्टर-19 में बनाया गया है। इसके निर्माण पर करीब एक वर्ष का समय और लगभग चार करोड़ रुपए की लागत आई है।

इस सेंटर से स्मार्ट सिटी के तहत विकसित होने वाली सारी हाइटेक सुविधाओं को नियंत्रित किया जाएगा। नया रायपुर में सुरक्षा और मॉनिटरिंग के लिए लगे सीसीटीवी कैमरों की निगरानी भी इसी सेंटर से होगी।

इस सेंटर में जनता से जुड़े सारे रिकॉर्ड और डाटा मौजूद होंगे। बिजली, पानी समेत अन्य सभी बिल यहां से तैयार होंगे। बिल अलग-अलग नहीं होंगे, बल्कि सभी सुविधाओं का एक ही बिल बनेगा। कंट्रोल एंड कमांड सेंटर पर मौजूद अमला पूरे शहर में सुरक्षा और ट्रैफिक सिस्टम की मॉनीटरिंग कर सकेगा।

दो चरणों में कमांड और कंट्रोल सेंटर बनाया जाएगा। ट्रैफिक सिग्नल, सुरक्षा के मद्देनजर चौराहों व सार्वजनिक स्थलों पर लगने वाले सीसीटीवी कैमरों को ऑपरेट करने के लिए पूरे शहर में ऑप्टिकल फाइबर केबल बिछाया जाएगा।

जनता को कंट्रोल एंड कमांड सेंटर के रूप में एकल खिड़की सुविधा मिलेगी। उसे बिलों को जमा करने के लिए अलग-अलग विभागों का चक्कर नहीं काटना पड़ेगा। जनता को कंट्रोल एंड कमांड सेंटर में ही सारे राजस्व रिकॉर्ड मिल जाएंगे।

Source:Agency