विराट कोहली ने हार के बाद गेंदबाजों का यूं बचाव किया

By Jagatvisio :07-07-2018 08:06


नई दिल्ली : टीम इंडिया को इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज के दूसरे मैच में हार का सामना करना पड़ा. इस मैच में इंग्लैंड 149 रनों का पीछा करते हुए पांच विकेट से जीत हासिल करने में कामयाब हुई. इंग्लैंड की ओर से एलेक्स हेल्स ने केवल 41 गेंदों में 58 रनों की शानदार नाबाद पारी खेली. वहीं टीम इंडिया की बल्लेबाजी  शुरुआत से ही दबाव में रही और उसका उच्च क्रम के तीन बल्लेबाज पहले पांच ओवर में ही आउट हो गए जिससे एक बार जो टीम बैकफुट पर आई लौट न सकी. हालाकि दोनों ही टीमों की रन बनाने की गति में ज्यादा अंतर नहीं रहा.

इस हार के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली कोहली ने कहा, “जब आप पहले छह ओवर में ही 30 रन पर पहले तीन विकेट खो देते हैं तो वापसी करना मुश्किल होता है.  मैंने सोचा था कि एक अच्छी साझेदारी 145 के स्कोर पर पहुंचा देगी जो कि इस पिच पर मुकाबले का स्कोर होता. स्थानीय टूर्नामेंट में यहां का औसत 145 है. इंग्लैंड ने विकेट का अच्छा इस्तेमाल किया जिसमें अतिरिक्त उछाल था और सीमर्स के लिए मदद भी थी. उन्होंने हम पर दबाव डाला हमें विकेट खोने पर मजबूर किया एक रनआउट भी हो गया.”

“हमें करीब 15 रन कम पड़ गए. पहले छह ओवर में हमें पीछे धकेल दिया था. हमारा पावरप्ले अच्छा नहीं रहा था और आखिर का स्कोर बताता है कि हम उतना जोर नहीं लगा सके जितना कि आखिर में लगाना चाहते थे. आपको पिच वगैरह सभी कुछ शामिल करना होता है. हमें अच्छा खेले और हम जानते थे कि इंग्लैंड के लिए 149 रनों का पीछा करके सीरीज बराबर करना कठिन होगा. मुझे लगता है कि हम आखिर में उनकी साझेदारी नहीं तोड़ सके. हम जानते थे कि यह ऐसा था जिसपर उन्हें मेहनत करनी थी”
  
गेंदबाजों का बचाव करते हुए कोहली ने कहा, “उन्होंने कुलदीप को वाकई शानदार खेला. चहल शानदार रहे. और दोनों ही मैचों में दोनों ने अपनी भूमिकाएं बदली. उन्होंने कुलदीप पर अपना होमवर्क बढ़िया किया था और इसका उन्हें फायदा भी मिला. यह प्रारूप गेंदबाजों के लिए बेरहम होता है. उमेश भी शानदार थे और भुवी भी लेकिन बदकिस्मती से हम फिनिश नहीं कर सके. 19वें ओवर में उस चौके ने उन्हें वापस ला दिया. टी20 में ये छोटी चीजें काफी मायने रखती हैं जो इसे दिलचस्प बनाता है.”
 

Source:Agency