इंडोनेशिया में भूकंप के बाद मंडराया एक और खतरा

By Jagatvisio :08-10-2018 07:44


इंटरनैशनल डेस्कः बीते दिनों इंडोनेशिया में भूकंप और सुनामी के कारण कई लोगों की मौत हो गई। जहां मरने वालों की की संख्या शुक्रवार को बढ़कर 1,571 हो गई वहीं लापता लोगों की गिनती में भी इजाफा हुआ है। इन सबके बीच वहां एक और बड़ा खतरा मंडरा रहा है। दरअसल भूकंप-सुनामी के बाद राहतकर्मी मलबे के ढेर से अब भी शवों की तलाश में जुटे हैं और शनिवार को वहां नई स्वास्थ्य चेतावनी जारी की गई है और पालू शहर में जमीन से कुछ शव सड़ी हालत में निकाले गए हैं।

अधिकारियों ने शनिवार को कहा कि शक्तिशाली भूकंप और उसके बाद सुनामी में मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,649 हो गया है और सुलावेसी द्वीप पर समुद्र के किनारे बसे शहर में करीब एक हजार लोग अब भी लापता हैं। इस हादसे के आठ दिन बीत जाने के बाद किसी के जीवित बचने की उम्मीद हालांकि बेहद कम है लेकिन तलाश अभियान को अभी आधिकारिक रूप से बंद नहीं किया गया है।इस बात की आशंका है कि पेटाबो और बालारोआ में कई शव सड़ी हुई हालत में अब भी जमीन के अंदर दबे हो सकते हैं।

भूकंप और सुनामी के बाद इन दोनों शहरों का एक तरह से नामोनिशान मिट गया। इंडोनेशिया में तलाश एवं राहत अभियान के प्रवक्ता ने पालू से एएफपी को बताया कि युसूफ लतीफ ने कहा कि हमें मिले अधिकतर शव क्षत-विक्षत हैं और यह राहतर्किमयों के लिये खतरा है। संपर्क के प्रभाव से बचने के लिये हमें बेहद सावधान रहना होगा। उन्होंने कहा कि हमने अपनी टीमों का टीकाकरण किया है, लेकिन हमें अतिरिक्त सतर्कता बरतने की जरूरत है।

Source:Agency