मेनलाइन का सिग्नल और लूप लाइन में पहुंच गई फरक्का

By Jagatvisio :11-10-2018 07:22


मालदा टाउन-नई दिल्ली एक्सप्रेस हादसा न सिर्फ लोगों को जख्म दे गई, बल्कि रेल विभाग की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर गई है। पहले जनता एक्सप्रेस और अब न्यू फरक्का एक्सप्रेस ने लोगों की जानें लीं। इसे लापरवाही कहा जाय या फिर तकनीकी चूक, लेकिन उन पीड़ितों पर मरहम कौन लगाएगा, जिन्होंने अपनों को खो दिया है।
सवाल ये उठ रहा है कि आखिर न्यू फरक्का एक्सप्रेस को मेन लाइन का सिग्नल दिया तो वह लूप लाइन में पहुंचकर कैसे दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इसका जवाब किसी अधिकारी के पास नहीं है। रेल विभाग का अधिकारी चाहे छोटा हो या फिर बड़ा। सब एक ही बात कह रहे हैं कि जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

23 डिब्बों वाली न्यू फरक्का एक्सप्रेस का रायबरेली रेलवे स्टेशन से छूटने के बाद लखनऊ जंक्शन में स्टापेज था। रेलवे सूत्रों का कहना है कि हरचंदपुर रेलवे स्टेशन पर मेन लाइन का सिग्नल दे दिया गया, लेकिन ट्रेन लूप लाइन में पहुंच गई। सवाल उठ रहा है कि मेन ट्रैक से लूप लाइन के प्वाइंट में गड़बड़ी थी या फिर अधिकारियों ने मेन लाइन का सिग्नल देने के बाद लूप लाइन का प्वाइंट नहीं जोड़ा।

Source:Agency